Mehndi To Rang Lati Hai Lyrics – Chori Chori Chupke Chupke | Jaspinder Narula

टूट के डाली से हाथों पे बिखर जाती है लिरिक्स Toot Ke Dali Se Hathon Pe Bikhar Jati Hai Lyrics from Chori Chori Chupke Chupke movie. Sung by Jaspinder Narula. Anu Malik has composed the music and lyrics penned by Sameer. Song is picturised on Preeti Zinta.
Song Credits:
Song Title/गाना: मेहँदी हां हां मेहँदी Mehandi Haan Haan Mehandi
Movie/चित्रपट: Chori Chori Chupke Chupke (Year-2001)
Singer/गायक: Jaspinder Narula
Music Director/संगीतकार: Anu Malik
Lyrics Writer/गीतकार: Sameer
Star casts/अभिनीत किरदार: Salman Khan, Rani Mukerji, Preity Zinta

Mehndi Haan Haan Mehndi Lyrics in Hindi

आ.. आ.. आ..
बंद मुठ्ठी में दिल को, छुपाए बैठे हैं
है बहना के मेहँदी लगाये बैठे हैं
मेहँदी हां हां मेहँदी
मेहँदी हां हां मेहँदी
टूट के डाली से हाथों
पे बिखर जाती है
मेहँदी हां हां मेहँदी

टूट के डाली से हाथों
पे बिखर जाती है
टूट के डाली से हाथों
पे बिखर जाती है
ये तो मेहँदी है
ये तो मेहँदी है
मेहँदी तो रंग लाती है
टूट के डाली से हाथों
पे बिखर जाती है
मेहँदी हां हां मेहँदी
लोग बागों से इसे
तोड़ के ले आते हैं
और पत्थर पे इसे
शौक से पिसवाते हैं
मेहँदी हां हां मेहँदी
लोग बागों से इसे
तोड़ के ले आते हैं
और पत्थर पे इसे
शौक से पिसवाते हैं
और पत्थर पे इसे शौक
से पिसवाते हैं
फिर भी होठों से
फिर भी होठों से इसकी
उफ़ तलक ना आती है
फिर भी होठों से इसकी
उफ़ तलक ना आती है
ये तो मेहँदी है
ये तो मेहँदी है
मेहँदी तो रंग लाती है
मेहँदी हां हां मेहँदी
अपने रस रंग से इस
दुनिया को सजाना है
काम मेहँदी का तो
गैरों के काम आना है
मेहँदी हां हां मेहँदी
मेहँदी हां हां मेहँदी
अपने रस रंग से इस
दुनिया को सजाना है
काम मेहँदी का तो
गैरों के काम आना है
काम मेहँदी का तो
गैरों के काम आना है
अपनी खुशबू से
अपनी खुशबू से ये सेहराओं
को महकाती है
अपनी खुशबू से ये सेहराओं
को महकाती है
टूट के डाली से हाथों पे
बिखर जाती है
ये तो मेहँदी है
मेहँदी तो रंग लाती है
मेहँदी हां हां मेहँदी..

Mehndi Haan Haan Mehndi Lyrics in English

Advertisement

Aa.. aa.. aa..
Band muththi mein dil ko
Chhupaye baithe hain
Hai bahana ke mehndi
Lagaye baithe hain
Mehndi haan haan mehndi
Mehndi haan haan mehndi
Tut ke daali se haathon
Pe bikhar jaati hain
Mehndi haan haan mehndi
Tut ke daali se haathon
Pe bikhar jaati hain
Tut ke daali se haathon
Pe bikhar jaati hain
Yeh to mehndi hai
Yeh to mehndi hai
Mehndi toh rang laati hai
Yeh to mehndi hai
Mehndi to rang laati hain
Tut ke daali se haathon
Pe bikhar jaati hain
Mehndi haan haan mehndi
Log baagon se ise
Tod ke le aate hain
Aur patthar pe ise
Shauk se pisvaate hain
Mehndi haan haan mehndi
Log baagon se ise
Tod ke le aate hain
Aur patthar pe ise
Shauk se pisvaate hain
Aur patthar pe ise shauk
Se pisvaate hain
Phir bhi hothon se
Phir bhi hothon se iski
Uff talak naa aati hai
Phir bhi hothon se iski
Uff talak na aati hai
Yeh toh mehndi hai
Yeh toh mehndi hai
Mehndi to rang laati hai
Yeh to mehndi hai
Mehndi to rang laati hain
Mehndi haan haan mehndi
Apne ras rang se is
Duniya ko sajana hai
Kaam mehndi ka toh
Gairon ke kaam aana hai
Mehndi haan haan mehndi
Mehndi haan haan mehndi
Apne ras rang se is
Duniya ko sajana hai
Kaam mehndi ka toh
Gairon ke kaam aana hain
Kaam mehndi ka toh
Gairon ke kaam aana hain
Apni khushboo se
Apni khushboo se yeh
Sehraaon ko mehkati hai
Apni khushboo se yeh
Sehraaon ko mehkati hai
Yeh toh mehndi hai
Mehndi to rang laati hai
Mehndi haan haan mehndi..

Leave a Comment